प्रधानमंत्री प्रवासी तीर्थ दर्शन योजना 2019 | Pravasi Teerth Darshan Yojana

Prime Minister Narendra Modi Launches Pravasi Teerth Darshan Yojana 2019 Here You Will Get Full Information In Hindi,Like What is Pravasi Teerth Darshan Yojana,NRI Tourist scheme in India,Pravasi Teerth Darshan Yojana,Benefit,Form, Eligibility Criteria, Documents and Much More..

Pravasi Teerth Darshan Yojana

क्या है प्रधानमंत्री प्रवासी तीर्थ दर्शन योजना 2019

22 जनवरी 2019 मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15वें प्रवासी भारतीय दिवस के उद्गाटन समारोह को संबोधित करते हुए की प्रवासी तीर्थ दर्शन योजना (Pravasi Teerth Darshan Yojana) का शुभारंभ किया।इस योजना के तहत केंद्र सरकार दुनिया भर में फैले हुए प्रवासी भारतीयों को तीर्थ यात्रा कराएगी।

इस योजना का मुख्य उदेश्य भारत से बाहर के देशों में बसे भारतीयों को भारत की अध्यात्मिक और सांस्कृतिक विरासत से जुड़ाव करवाना और साथ ही साथ पर्यटन उद्योग को बढ़ावा पहुँचाना है .

Prime Minister Narendra Modi Launches Pravasi Teerth Darshan Yojana at 22 january 2019.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  ने Pravasi Teerth Darshan Yojana की शुरआत करते हुए सभी प्रवासी भारतीयों (NRI Indian)से आह्वान किया की वो जिस किसी भी देश में निवास कर रहे है खुद तो आये ही आये साथ में कम से कम उस देश के 5-5 नॉन इंडियन्स को भी भारत दर्शन के लिए प्रेरित करे .

Get PM Pravasi Teerth Darshan Yojana Key Factors, Objective & All Important Details. Check Application Process Of NRI Religious Tour Scheme.

PM launches Pravasi Teerth Darshan Yojana

योजना का नाम प्रवासी तीर्थ दर्शन योजना 
आरंभ की तिथि (Date of Launch) 22  जनवरी 2019 
Launch By प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 
योजना का उद्देश्य प्रवासी भारतीयों (NRI) को तीर्थ यात्रा के द्वारा भारत की अध्यात्मिक और सांस्कृतिक विरासत से जोड़ना.
योजना से फायदा  भारत की सांस्कृतिक विविधता को दुनिया में पहुँचाना और पर्यटन उद्योग को बढ़ावा.
साल में कितनी बार यात्रा  योजना में एक समूह को 2 बार लिया जायेगा
 

योजना के मुख्य बिन्दु :-

  • मुख्य उद्देश्य – प्रवासी भारतीयों को भारत की संस्कृति और विरासत से जोड़ना । जिसे लम्बे समय से जो भारतीय देश से बाहर बसे हुए है उन्हें भारत को नजदीक से जानने का मौका मिलेगा ।
  • भारतीय पर्यटन उद्योग में सुधार – यह योजना देश में पर्यटन उद्योग की स्थिति में सुधार करने में भी मदद करेगी क्योंकि पर्यटन को देश के सकल घरेलू उत्पाद का जीडीपी माना जाता है।
  • NRI को दी जाने वाली सुविधाएं – केंद्र सरकार द्वारा इस धार्मिक यात्रा के दौरान लोगों को बुनियादी सुविधाएं प्रदान की जाएंगी। केंद्र सरकार द्वारा उनके देश से हवाई यात्रा सहित सभी खर्च वहन करेगी।

प्रवासी तीर्थ दर्शन योजना के लिए योग्यता :-

  • आयु सीमा – 45 वर्ष से 65 वर्ष आयु वर्ग के व्यक्ति इसका लाभ उठा सकते है ।
  • आवेदन – भारतीय मूल के प्रवासी भारतीय इसके लिए आवेदन कर सकते है।
  • गिरमिटिया देश – धार्मिक दौरे के लिए समूह चुने जाने पर गिरमिटिया देशों से संबंध रखने वाले लोगों को वरीयता दी जाएगी। गिरमिटिया देशों में फिजी, गुयाना, सूरीनाम, त्रिनिदाद, मॉरीशस और टोबैगो, जमैका शामिल हैं।

आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेज और आवेदन प्रक्रिया क्या है?

  • आवेदन पत्र के साथ आयु प्रमाण लगाना जरूरी है ।
  • आवासीय प्रमाण पत्र प्रस्तुत सलग्न करना होगा जिसे ये साबित होता हो की आवेदनकर्ता NRI है ।
  • आवेदन पत्र डाउनलोड  और भरने के लिए किसी भी प्रकार का कोई नियम नही है ।

Quick Links

NRI Tourist Apply Now Updated soon
Official website NRI Tourism Updated soon
Central govt. scheme Click Here

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रवासी भारतीय दिवस जो की हर वर्ष  9 जनवरी को आयोजित किया जाता है परन्तु इस बार ये 21 से 23 जनवरी 2019 को आयोजित किया गया ।इस मौके पर सरकार ने हस्‍तकला में उत्कृष्टता केंद्रों की भी योजना बनाई है जिसके अंतर्गत 55 केंद्र शुरू किए गए हैं। इस योजना के कार्यान्वयन से, हमारे देश की सांस्कृतिक विविधता के बारे में प्रवासी भारतीयों को जानने में मदद मिलेगी।

प्रवासी भारतीय दिवस

प्रवासी भारतीय दिवस जिसकी शुरुआत सरकार द्वारा सन 2003 में की गई थी जो और तब से प्रत्येक वर्ष की 9 जनवरी को इसका आयोजन किया जाता है।  9 जनवरी की तारीख चुने का मुख्य कारण है की इसी दिन महात्मा गांधी दक्षिण अफ्रीका से स्वदेश वापस आये थे। प्रवासी भारतीय दिवस मनाने की विचार स्वर्गीय लक्ष्मीमल सिंघवी के दिमाग की उपज थी।

Read More: 

Here You Will Read About Pravasi Teerth Darshan Yojana Information In Hindi.We hope this information will be useful to you.

1 Comment

Add a Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *