ओडिशा किसान “कालिया योजना” क्या है ?

नमस्कार किसान भाइयो ओडिशा के किसानों के लिए ओडिशा सरकार ने हाल ही में एक नई योजना को मंजूरी दी है जो की :कालिया योजना “के नाम से है जिसका पूरा नाम है कृषक एसिस्टेंस फॉर लाइवलीहुड एंड इन्कम ऑगमेंटेशन (Krishak Assistance for Livelihood and Income Augmentation) है. आइये जानते है ओडिशा सरकार की इस कालिया योजना (Kaliya Yojana) के बारे में सम्पूर्ण जानकारी .Odisha Govt Approves Kalia Yojana Scheme For Farmers In Hindi

Odisha Krishak Assistance for Livelihood and Income Augmentation Kaliya Yojana

Kalia Yojana Odisha Govt Schemes For Farmers 2018 | कालिया योजना

राजस्थान ,मध्यप्रदेश ,छत्तीसगढ़,सिक्किम राज्यों के किसान कर्ज माफी और किसान पेंशन योजनाओं के बाद ओडिशा सरकार किसानों के लिए 10,000 करोड़ रुपये की कृषक एसिस्टेंस फॉर लाइवलीहुड एंड इन्कम ऑगमेंटेशन (कालिया) परियोजना लाई है. इस योजना के अंतर्गत किसानों को बीमा के साथ-साथ वित्तीय, आजीविका और खेती के लिए सहायता प्रदान की जाएगी. इसे भी पढ़े : मध्य प्रदेश के किसानों का कर्ज माफ

ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने इस योजना की जानकारी देते हुए बतलाया की इसे कृषि(Govt Agriculture Scheme) की उन्नति को रफ्तार देने और गरीबी घटाने के लिए मंत्रिमंडल ने 10,000 करोड़ रुपये की ऐतिहासिक कालिया परियोजना को मंजूरी प्रदान की है जिसे 2020-21 तक 3 साल में यह रकम खर्च की जाएगी. प्रदेश के सभी छोटे किसानों को इस परियोजना में शामिल किया जाएगा. ये भी देखे :राजस्थान के किसानों का कर्ज माफ

राष्ट्रीय किसान दिवस | 23 December National Farmers Day in Hindi

कालिया योजना के मुख्य बिंदु

  • योजना के तहत राज्य के 92% को लाभ पहुचाने का लक्ष्य।
  • Kaliya Yojana के लिए सरकार ने 10,000 करोड़ रुपये की राशि को मंज़ूरी दी है।
  • इस राशि को अगले तीन वर्षों में व्यय किया जाएगा।
  • इस योजना से राज्य के लगभग 30 लाख छोटे व सीमान्त किसान लाभान्वित होंगे।
  • कालिया योजना के तहत प्रत्येक परिवार को 10,000 रुपये की वित्तीय सहायता दी जायेगी।
  • खरीफ और रबी दोनों सीजन में 5,000-5,000 रुपये दिए जाएंगे ।
  • ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने 50,000 रुपये के फसल ऋण को ब्याज-मुक्त करने की घोषणा भी की है।

 

2 Comments

Add a Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *